अलसकथा – Class 10th Sanskrit Objective Question Matric Exam 2021

Bihar Board Solution

संस्कृत कक्षा 10 | अलसकथा OBJECTIVE Objective Question Matric Exam 2021 [ Class-10 ] [ संस्कृत SANSKRIT ] ” अलसकथा ” पाठ का 17 v.v.i Question Answer, bihar board 10th model paper 2021 Class 10th sanskrit objective Question Answer 2021 

3. अलसकथा

… वैक्लपिक प्रश्न …

  1. अलसकथा पाठ कहाँ से लिया गया है ?

( क ) पञ्चतन्त्र से                          ( ख ) हितोपदेश से

( ग ) पुरुषपरीक्षा से                        ( घ ) रामायण से

उत्तर- ( ग )

  • पुरुषपरीक्षा नामक कथा ग्रन्थ के लेखक कौन है ?

( क ) विद्यापतिः                            ( ख ) विष्णु शर्मा

( ग ) व्यासः                                  ( घ ) नारायणपण्डितः

उत्तर- ( क )

  • पुरुषपरीक्षा नामक कथा ग्रन्थ का वर्ण्य विषय क्या है ?

( क ) चौर्य विद्या                            ( ख ) दोषों का निराकरण

( ग ) पुरुषों की परीक्षा                    ( घ ) इनमें से कोई नहीं

उत्तर- ( ख )

4. विद्यापति किस भाषा के लोकप्रिय कवि थे ?

( क ) मैथिली                             ( ख ) मगही

( ग ) बज्जिका                            ( घ ) भोजपुरी

उत्तर- ( क )

5. नीतिकार आलस्य को किस रूप में मानते हैं ?

( क ) मित्ररूपम्                           ( ख ) रिपुरूपम्

( ग ) क्षमारूपम्                           ( घ ) दयारूपम्

उत्तर- ( ख )

6. मिथिलायाः मन्त्री कः आसीत् ?

( क ) दानेश्वरः                            ( ख ) सुरेश्वरः

( ग ) वीरेश्वरः                              ( घ ) गजेश्वरः        

उत्तर- ( ग )

7. कारुणिक विना केषां गतिः नास्ति ?

( क ) अलसानाम्                        ( ख ) योगीनाम्

( ग ) साधकानाम्                        ( घ ) धूर्तानाम्

उत्तर- ( क )

8. अन्ते कति पुरुषाः सुप्ताः आसन् ?

( क ) दश                                   ( ख ) षट्

( ग ) सप्त                                   ( घ ) चत्वारः

उत्तर- ( घ )

9. किं दृष्ट्वा धूर्ताः पलायिता :?

( क ) जलम्                               ( ख ) भुशुण्डिम्

( ग ) अग्निम्                               ( घ ) दण्डम्

उत्तर- ( ग )

10. अन्नशाला के अधिक व्यय को देखकर कर्मचारियों ने मन्त्रियों को क्या सलाह दिया ?

( क ) भोजन बंद करने का            ( ख ) आलसियों के पहचान का

( ग ) आलसी पुरुषों की परीक्षा का ( घ ) इनमें से कोई नहीं

उत्तर- ( ग )

11. अलसकथायां कस्य महत्त्वं वर्णिमस्ति ?

( क ) मानवगुणानाम्                    ( ख ) पशुगुणानाम्

( ग ) पक्षीणाम्                             ( घ ) अग्नीनाम्

उत्तर- ( क )

12. अलसकथायां कस्य दोषस्य वर्णनमस्ति ?

( क ) बुद्धिमतः                           ( ख ) श्रीमतः

( ग ) वञ्चकस्य                           ( घ ) अलसस्य

उत्तर- ( घ )

13. वीरेश्वरस्य स्वभावः कीदृशः आसीत् ?

( क ) दयाहीनः निष्ठुरः च              ( ख ) क्षमाशीलः क्रूरः च

( ग ) दानशीलः कारुणिकः च ( घ ) पराक्रमी साहस च

उत्तर- ( ग )

14. आलसियों के सुख को देखकर कृत्रिम आलसीपन दिखाकर कौन भोजन ग्रहण करते थे ?

( क ) बुद्धिमन्तः                          ( ख ) ज्ञानवन्तः

( ग ) धनवन्तः                            ( घ ) धूर्ताः

उत्तर- ( घ )

15. केषाम् इष्टलाभं दृष्ट्वा तुन्दपरिमृजाः वर्तलीबभूवुः ?

( क ) अलसपुरुषानाम्                 ( ख ) चौराणाम्

( ग ) छात्राणाम्                           ( घ ) शिक्षकानाम्

उत्तर- ( क )

16. स्वीणां गतिः का ?

( क ) भ्राता                                ( ख ) पिता

( ग ) माता                                 ( घ ) पतिः  

उत्तर- ( घ )

17. बालानां गतिः का ?

( क ) जननी                               ( ख ) पितृस्वसा

( ग ) भगिनी                               ( घ ) अग्रजा

उत्तर- ( क )

18. शरीरे स्थितः मनुष्यस्य महान् शत्रुः कः ?

( क ) दया                                  ( ख ) आलस्यम्

( ग ) दानम्                                ( घ ) लोभः

उत्तर- ( ख )

19. अलसकथा में कितने पुरुष परस्पर वार्तालाप करते हैं ?

( क ) चार                                  ( ख ) दो

( ग ) छः                                    ( घ ) आठ

उत्तर- ( क )

20. अलसकथा किस प्रकार की रचना है ?

( क ) व्यंग्यात्मिका                       ( ख ) अभिधात्मिका

( ग ) लक्षणात्मिका                      ( घ ) सरलात्मिका

उत्तर- ( क )

21. किसको करने से मनुष्य दुःखी नहीं होता है ?

( क ) उद्यम ( परिश्रम )                ( ख ) साहस

( ग ) धैर्य                                   ( घ ) दया

उत्तर- ( क )

22. सबसे बड़ा बन्धु कौन है ?

( क ) करुणा                              ( ख ) दया

( ग ) क्षमा                                  ( घ ) उद्यम / परिश्रम

उत्तर- ( घ )

… लघु उत्तरीय प्रश्न एवम् दीर्घ उत्तरीय प्रश्न …

परीक्षार्थियों के लिए निर्देश : – प्रश्नपत्र में लघु उत्तरीय प्रश्नों की संख्या पन्द्रह रहती हैं इनमें से किन्हीं आठ प्रश्नों के उत्तर लिखने हैं । प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होता है । शब्द सीमा 30-40 रहेगी ।

प्रश्न 1. ‘ अलस कथा पाठ में किसका वर्णन है ? अथवा , अलस कथा पाठ का परिचय दें ।

उत्तरम् – ‘ अलस कथा ‘ नामक पाठ विद्यापति द्वारा रचित ‘ पुरुषपरीक्षा ‘ नामक कथाग्रन्थ से लिया गया है । यह एक उपदेशात्मक लघुकथा है । विद्यापति ने मैथिली , अवहट्ट तथा संस्कृत तीनों भाषाओं में ग्रन्थ रचना का था । पुरुष – परीक्षा में धर्म , अर्थ , काम इत्यादि विषयों से सम्बद्ध अनेक मनोरञ्जक कथाएँ दी गयी है । इस पाठ से संसार के विचित्र लोगों के क्रियाकलाप का परिचय मिलता है । इस पाठ में आलस्य नामक दोष का वर्णन व्यंग्यात्मक शैली में किया गया है । इस कथा का सन्देश है कि आलस्य एक महान् शत्रु है इसे दूर भगाना चाहिए ।

प्रश्न 2. अलस कथा पाठ में वास्तविक आलसियों की पहचान कैसे अथवा , अलसशाला में आग लगने पर क्या हुआ ?

उत्तरम् – वास्तविक आलसियों को पहचानने के लिए जब आलसियों के घर में आग लगा दिया गया तब धूर्त लोग भाग गये अर्थात् बनावटी आलसी भाग गयें । किन्तु बचें चार वास्तविक आलसी आपस में बात करने लगें और ऐसे सज्जन की प्रतीक्षा करने लगे , जो उन्हें बाहर निकाल दें । इस प्रकार चार वास्तविक आलसियों की पहचान कर ली गई ।

प्रश्न 3. चारों आलसियों के बातचीत को लिखो । अथवा , ‘ अलस कथा पाठ के आधार पर बताइए कि आलसी , पुरुषों को किसने और क्यों निकाला ?

उत्तरम् – अलसशाला में आग लगने के बाद चार आलसी आपस में वार्तालाप करने लगे । पहले ने कहा – यह कैसा हल्ला है ? तब दूसरे ने उत्तर देते हुए कहा – लगता है घर में आग लग गई है । तीसरे ने कहा – क्या कोई धार्मिक व्यक्ति नहीं हैं जो हमलोगों के भीगें वस्त्र या चटाई से हमलोगों की ढंक दे । अन्त में चौथे ने कहा अरे वाचाला ! तुमलोग चुप क्यों नहीं रहते हो । इस प्रकार के वार्तालाप को सुनकर वहाँ नियुक्त पुरुषों ने मान लिया कि ये चारों वास्तविक आलसी हैं । उसके बाद उनके बालों को पकड़कर आग के बीच से बाहर निकाल लिया ।

प्रश्न 4.’अलस कथा पाठ का सन्देश क्या है ? अथवा , ‘ अलस कथा पाठ से क्या शिक्षा मिलती है ?

उत्तरम् – अलस कथा पाठ का संदेश है कि आलस सबसे बड़ा शत्रु है । आलस करने वाला व्यक्ति दूसरों की दया पर जीता है । आलसी को आलस के कारण अपना जीवन रक्षण भी नहीं हो पाता है । इस प्रकार के लोगों से समाज विनष्ट होता है । यदि जीवन को सफल करना है तो आत्मनिर्भर बनकर कठिन परिश्रम करना चाहिए ।