मङ्गलम् – Bihar Board Class 10th Sanskrit Solutions Chapter 1 Manglam

Bihar Board Solution

Class 10th Sanskrit Objective Question Matric Exam 2021 | Sanskrit Model Paper 2021 || संस्कृत कक्षा-10 मङ्गलम् Objective Question In Hindi

1. ‘ मङ्गलम् ‘ नामक पाठ कहाँ से संग्रहीत है ?

( क ) पुराण से                              ( ख ) उपनिषद् से

( ग ) ब्राह्मण ग्रंथ से                        ( घ ) वेद से

2. ‘ मङ्गलम् ‘ पाठ में कुल कितने मंत्र है?

( क ) पञ्च                                 ( ख ) सप्त

( ग ) चत्वारः                                ( घ ) नव

3. हिरण्यमयेन पात्रेण ………. सत्यधर्माय दृष्टये ॥ मंत्र किस उपनिषद् से स्वीकृत है ?

( क ) केनोपनिषद्                  ( ख ) मुण्डकोपनिषद्

( ग ) कठोपनिषद्                          ( घ ) ईशावास्योपनिद् 

4. अणोरणीयान् महिमानमात्मनः ॥ यह मंत्र किस उपनिषद् से संकलित है?

( क ) श्वेताश्वरोपनिषद्                     ( ख ) ऐतरेयोपनिषद्

( ग ) ईशावास्योपनिषद्                   ( घ ) कठोपनिषद् 

5. ‘ सत्यमेव जयते ‘ नामक मंत्र किस उपनिषद् से लिया गया है?

        ( क ) मुण्डकोपनिषद्                      ( ख ) माण्डूक्योपनिषद्

        ( ग ) श्वेतोपनिषद्                           ( घ ) कठोपनिषद्

6. यथा नद्यः स्वन्दमानाः ……… उपैति दिव्यम् ।। किससे संकलित है?

        ( क ) केनोपनिषद्                  ( ख ) कठोपनिषद्

        ( ग ) मुण्डकोपनिषद्                       ( घ ) मन्त्रीपनिषद्

7. वेदाहमेतं पुरुष …….. विद्यतेऽयनाय ।। मन्त्र किस उपनिषद् से संगृहीत है?

( क ) श्वेताश्वतरोपनिषद्                   ( ख ) माण्डूक्योपनिषद्

( ग ) केनोपनिषद्                          ( घ ) वेदोपनिषद्

8. ‘ मङ्गलम् ‘ पाठ के मन्त्रों का वर्णन किस शास्त्र शैली में वर्णित है ?

( क ) दर्शनशास्त्र                           ( ख ) व्याकरण शास्त्र

( ग ) शिक्षा शास्त्र                   ( घ ) कल्प शास्त्र

9. अणोः अणीयान् कः ?

( क ) हृदयम्                                ( ख ) आत्मा

( ग ) मनः                                    ( घ ) बुद्धिः

10. महतो महीयान् कः ?

( क ) पर्वतः                                 ( ख ) गजः

( ग ) ईश्वरः                                  ( घ ) आत्मा

11. उपनिषदों में प्रधान रूप से किसकी महिमा बताई गई है ?

( क ) परमात्मा                             ( ख ) जीव

( ग ) संसार                         ( घ ) ब्रह्माण्ड

12. यह जगत् किसके द्वारा अनुशासित है ?

( क ) दानव                         ( ख ) परमात्मा

( ग ) मनष्य                         ( घ ) जन्त

13. ब्रह्मणः / सत्यस्य मुखं केन पात्रेण अपिहितम् अस्ति?

( क ) लौहमयेन पात्रेण                    ( ख ) मनोमयेन पात्रेण

( ग ) हिरण्यमयेन पात्रेण          ( घ ) मृण्मयेन पात्रेण

14. पूषा कस्मै सत्यस्य मुखेम् अपावृणुयात् ?

( क ) सत्यधर्माय                           ( ख ) क्षमाशीलाय

( ग ) ज्ञानाय                                ( घ ) विद्यायै

15. किं जयते ?

( क ) धनमेव                                ( ख ) सत्यमेव

( ग ) बलमेव                                ( घ ) शक्तिरेव

16. देवयानः पन्थाः केन विततः अस्ति?

( क ) जलेन                                 ( ख ) मार्गेन

( ग ) बलेन                                  ( घ ) सत्येन

17. नछः के विहाय समुद्रे अस्तं गच्छन्ति?

( क ) नामरूपे                              ( ख ) शक्तिरूपे

( ग ) जलरूपे                               ( घ ) जनरूपे

18. साधकः पुरुष विदित्वा कम् अत्येति?

( क ) जीवनम्                               ( ख ) मृत्युम्

( ग ) मोक्षः                                  ( घ ) स्वर्ग :

19. कस्य गुहायाम् अणो अणीयान् आत्मा निहितः अस्ति?

( क ) हृदयरूपीगुहायाम्                   ( ख ) पर्वतरूपी गुहायाम्

( ग ) मनरूपी गुहायाम्                    ( घ ) उदररूपी गुहायाम्

20. आप्तकामाः ऋषय: केन पथा सत्यं प्राप्नुवन्ति?

( क ) देवयानेन                             ( ख ) बलेन

( ग ) रथेन                                   ( घ ) वायुयायेन

21. विद्वान् कीदृशं पुरुषं वेत्ति?

( क ) परात्परं दिव्यं पुरुषम्              ( ख ) सांसारिक सामान्यं पुरुषम्

( ग ) अहंकारी पुरुषम्                     ( घ ) विनयशील पुरुषम्

22. स्यन्दमाना: नद्यः कुत्र मिलन्ति?

( क ) समुद्रे                                 ( ख ) पर्वते

( ग ) सरोवरे                                ( घ ) कूपे

23. उपनिषदः रचनाकारः कः?

( क ) कालिदासः                          ( ख ) चाणक्यः

( ग ) बाणभट्टः                              ( घ ) वेदव्यासः

24. प्रायशः उपनिषदों के आदि और अंत में क्या लिखा गया है ?

( क ) शान्तिपाठ                           ( ख ) धनपाठ

( ग ) अनुशासनपाठ                       ( घ ) रसपाठ

25.क्दान्त दर्शन का आधार ?

( क ) नीतिशतक                           ( ख ) उपनिषद्

( ग ) गीता                                   ( घ ) आरण्यक

Sanskrit ka objective Question For matric Exam 2021| sanskrit ka Question Bank 2021 | matric 2021 sanskrit ka Question 2021| vvi question 10th class 2021| 2021 ka matric ka question | bihar board objective question 2021

परीक्षार्थियों के लिए निर्देश : – प्रश्नपत्र में लघु उत्तरीय प्रश्नों की संख्या पन्द्रह रहती हैं इनमें से किन्हीं आठ प्रश्नों के उत्तर लिखने हैं । प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होता है । शब्द सीमा 30-40 रहेगी ।

प्रश्न 1. मालम् पाठ का परिचय लिखें ।

उत्तरम् – हमारी पाठ्यपुस्तक पीयूषम् ( द्वितीयों भागः ) के प्रथम पाठ का नाम ‘ मङ्गलम् ‘ है । इस पाठ में पाँच मन्त्र क्रमश : ईशावास्य , कठ , मुण्डक माण्डूक्य तथा श्वेताश्वर नामक उपनिषदों से संकलित है । ये मङ्गलाचरण के रूप में पठनीय है । वैदिक साहित्य में विशुद्ध आध्यात्मिक ग्रन्थों के रूप में ‘ उपनिषदों का महत्व है । इसे पढ़ने से परमसत्ता के प्रति श्रद्धा उत्पन्न होती है सत्य के अन्वेषण की प्रवृत्ति जागृत होती है । उपनिषद् – गन्थों का सम्बन्ध विभिन्न वेदों से हैं । उपनिषद् संवादशैली में लिखी गई हैं ।

प्रश्न 2. मङ्गलम् ‘ पाठ के आधार पर आत्मा के स्वरूप को स्पष्ट करें

उत्तरम् –  कठोपनिषद् के मन्त्र में आत्मा की व्याख्या करते हुए कहा गया है कि यह आत्मा अत्यन्त सक्ष्म तथा विशालतम भी है । यह प्रत्येक जीव के हृदयरूपी गुफा में निवास करता है । कर्म बन्धन से मुक्त तथा शोकरहित व्यक्ति ईश्वरीय कृपा से आत्मा के स्वरूप को जान पाता है ।

प्रश्न 3. ‘ मङ्गलम् ‘ पाठानुसार सत्य से साक्षात्कार कैसे हो

उत्तरम् – ‘ मङ्गलम् ‘ पाठ के ईशावास्योपनिषद् के मन्त्र में सत्य का स्थान बताया गया है । इसमें कहा गया है कि सत्य का मुख सोना नामक धातु के आवरण से ढंका हुआ है अर्थात् सांसारिक माया – मोह के चादर से ढंका हुआ है । इसलिए सत्य और धर्म से साक्षात्कार के लिए माया – मोह के बंधन से ऊपर उठना होगा ।