सरकारी टीचर ने लड़की बन फंसाया:फर्जी आईडी बनाकर दोस्ती करता, आवाज बदलकर फोन पर बात कर मिलने बुलाता, फिर अश्लील हरकत कर लूट लेता; 150 को बनाया शिकार

पाली के चंडावल में एक सरकारी शिक्षक के अजीब शौक ने उसे हवालात तक पहुंचा दिया। शिक्षक सोशल मीडिया पर लड़की बनकर लड़कों से दोस्ती करता था। फिर लड़की आवाज में बात कर अपने जाल में फंसाता। बाद में मिलने के बहाने बुलाकर रुपए लूटता और यौन उत्पीड़न करता था। मामले में सोजत पुलिस ने आरोपी शिक्षक को एक पीड़ित की रिपोर्ट पर गिरफ्तार किया है।

सोजत सिटी थानाप्रभारी जसवंतसिंह राजपुरोहित ने बताया कि सोजत सिटी निवासी पीड़ित की रिपोर्ट पर चंडावल निवासी 30 वर्षीय विकास बालोटिया पुत्र रोशनलाल बालोटिया को गिरफ्तार किया है। आरोपी जोधपुर जिले के शेरगढ़ क्षेत्र के सांई स्थित राजकीय स्कूल में टीचर है। आरोपी से पूछताछ जारी है।

पीड़ित ने 11 अक्टूबर को रिपोर्ट दी, जिसमें बताया कि कुछ दिनों पहले मंजू नाम से एक आईडी से उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट मिली। उस आईडी में अपने कुछ मित्रों को देख उसने फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली। फिर मंजू नाम की इस आईडी से उन्हें लगातार मैसेज आने लगे। बाद में वॉइस कॉल आया। कॉल करने से मना किया तो आगे से बोली की मैं इन दिनों डिप्रेशन में हूं। बार-बार मन में मरने के ख्याल आते हैं। आप से बात करती हूं तो मन हल्का हो जाता है, जिस पर उससे बात करने लग गया।

रिपोर्ट में पीड़ित ने बताया कि 15 दिन पहले सोजत आकर कॉल कर मुझे मिलने के लिए बुलाया। फिर फोन किया कि मैं अपने भाई को भेज रही हूं। उससे दोस्ती कर लोगे तो मेरे घर आ सकते हो। पीड़ित मिलने चला गया। आरोपी साथ में बैठकर बात कर रहे थे। इसके बाद आरोपी पीड़ित को दूसरे कमरे में ले गया। फिर अश्लील हरकत करने के लिए कहने लगा। जब पीड़ित ने विरोध किया तो उसे झूठे केस में फंसाने की धमकी दी। रिपोर्ट में बताया कि उसे डरा धमका कर आरोपी ने 2200 रुपए भी अपने खाते में ट्रांसफर करवा लिए।

करीब 150 लोगों को सोशल मीडिया पर लड़की बन की दोस्ती
प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी युवक ने स्वीकार किया कि उसने अभी तक करीब 150 लोगों को सोशल मीडिया पर लड़की बनकर फ्रेंड बनाया। उनको अश्लील बातों में फंसाकर संबंध बनाने के लिए दबाव डालता।

पहले भी पकड़ा जा चुका है आरोपी
आरोपी करीब एक साल पहले भी चंडावल में इस तरह सोशल मीडिया पर खुद की लड़की के नाम से आईडी बनाकर लोगों को फंसा चुका है। मामला खुलने पर लोगों ने उसकी पिटाई की और चंडावल चौकी पुलिस को सौंपा था। उस समय युवक को शांतिभंग में गिरफ्तार किया था।