पढाई में मन कैसे लगाये । Padhai Me Man Kaise Lagaye

पढाई में मन कैसे लगाये । Padhai Me Man Kaise Lagaye In Hindi अगर आपको अपनी जिंदगी में कुछ अच्छा करना है , अपनी लाइफ को बेहतर बनाना है , और कुछ ऐसा करना है , जिससे लोग आपसे प्रेरित हो। तो उसके लिए आपको मन लगाकर पढ़ना होगा।

पढ़ाई वास्तव में हमारे जीवन में काफी महत्व रखता है। यह अब हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग बन चूका है। जिसे हमारे दिमागी वृद्धि के लिए बनाया गया है।

अकसर कई बच्चे अपने पढ़ाई में मन नहीं लगा पाते , इसके कुछ कारण हो सकते है। जैसे उनका पढ़ाई के आलावा किसी और चीज में ज्यादा रूचि होना। लेकिन फिर भी उन्हें पढ़ाई की जरुरत पड़ती है , तो वो अपना मन पढ़ाई में कैसे लगाए।

आज की दुनिया ऐसी हो गयी है , जिसमे पढ़ाई को एक बोझ के रूप में लिया जाता है , जो कि गलत बात है। पढ़ाई को भी आप इंटरेस्टिंग तरीके से कर सकते है।

अगर आपकी पढ़ने की कोई इच्छा ही नहीं है , तो आज का पोस्ट आपके कोई काम का नहीं करेगा। लेकिन अगर आपकी पढ़ाई करने की थोड़ी से भी इच्छा है , तो आज का पोस्ट आपकी जिंदगी को बेहतर बनाने की ताकत रखता है , बशर्ते आपको अपनी पूरी लगन से इन टिप्स को फॉलो करना होगा। Best Study Tips Hindi

आज की दुनिया में हर जगह इतना प्रतिस्पर्धा की भावना आ गयी है। कि आपको उसके लिए कठिन से कठिन प्रयास करना होगा|

अगर आपको कही पर भी जॉब के लिए अप्लाई करते है , तो आपको सिर्फ पासिंग मार्क्स से कोई भी जॉब नहीं मिलेगा इसके लिए आपको ज्यादा से ज्यादा अच्छे मार्क्स लाने होंगे।

तभी आप को कोई अच्छी जॉब मिलेगी। तो उसके लिए आपको अपनी पढ़ाई अच्छे से करनी होगी।


पढ़ाई में मन क्यों नहीं लग पाता


आज की दुनिया में बच्चो का किताब के ऊपर से ध्यान हटना एक आम बात हो गयी है , और यही कारण है , कि कई बच्चे अपनी पढाई अच्छे से नहीं कर पाते है और फिर उनका फाइनल एग्जाम में मार्क्स अच्छे नहीं बन पाते , आज कल हमे पढ़ाई करने के लिए एक शांत माहौल की जरुरत होती है , और साथ ही अपने distract करने वाली चीजों से दूर रहने की बेहद जरुरत होती है।

अकसर जब भी हम पढ़ाई करने बैठते है , तो हमारा ध्यान कई कारणों से भटकता है , जैसे आस पास शोरगुल होना , आपके मोबाइल पर मैसेज आना। और जब हमारे मोबाइल पर किसी का मैसेज आता है , तो हम उससे 1 या 2 घंटे तक चैट करने के बाद ही अपने फ़ोन से दूर हटते है या लगे रह जाते है। तो इस तरह की मन विचलन के कारण हमारा पढ़ाई में मन नहीं लग पाता है।


पढ़ाई में मन कैसे लगाए | Padhai Me Man Kaise Lagaye


तो चलिए अब हम जानते है , कि आखिर हम पढ़ाई में मन कैसे लगाए। वैसे पढ़ाई करते वक्त कई लोगो को कुछ समझ नहीं आता है , इसलिए आप इस बात पर गौर कर ले , कि आपको आखिर पढ़ना क्या है ? इतना तो आपको करना ही है।

आपको पहले जिस विषय में ज्यादा रूचि हो उसे ही पढ़े ताकि आपको पढ़ने में मजा आये। नहीं तो आप कोई ऐसा विषय पढ़ेंगे , जिसमे आपको रूचि न हो और आपको समझ में न आये तो आपको काफी बोरियत होगी। इसलिए आप अपनी मन पसंदीदा सब्जेक्ट से ही शुरुवात करे। शुरुवाती समय में पढ़ना आपके लिए थोड़ा मुश्किल का काम होगा। लेकिन अगर आप थोड़ी कोशिश करे , तो आपको पढ़ने की आदत हो जाएगी।


#1 पढ़ाई के लिए समय सारणी (Time Table ) बनाये।


 पढ़ाई के लिए समय सारणी (Time Table ) बनाये।

अपने दिनचर्या को सही करने के लिए हमें एक समय सारणी यानि की एक टाइम टेबल की जरुरत पड़ेगी। ताकि आप अपना हर काम समय के पाबंद में रह कर करे।

समय का सही इस्तेमाल आपके लिए काफी फायदे मंद है। इसलिए आप अपने पढ़ाई के लिए एक टाइम टेबल बनाये , कि आप जो भी करे आप एक समय के अनुसार करे।

इससे आप अपने कामो में ध्यान रख पाएंगे , की कैसे आपको किस समय पर क्या करना है। आप इस बात का ध्यान रखे शुरुवाती समय में आपको थोड़ा ही पढ़ाई करनी है , इससे आपका पढ़ाई में रूचि बनी रहेगी।

अपने शुरुवाती समय में आप अपनी पढ़ाई 1 घण्टे कर सकते है। और आप उसे धीरे धीरे 10 मिनट सप्ताह के हिसाब से बढ़ाये अगर आप सप्ताह के हिसाब से बढ़ाते है , तो आप पुरे महीने में अपनी 40 मिनट ज्यादा पढ़ाई की अवधि बढ़ाएंगे।

और यही काम अगर आप हर सप्ताह के हिसाब से 6 सप्ताह यानि की दो महीने के अंदर ही धीरे धीरे अपनी पढ़ाई की समय अवधि को बढाते है। तो आप हर रोज 2 घंटा पढ़ाई कर पाएंगे। हर रोज अगर आप दो घण्टे तक की पढ़ाई करे। तो इतना आपके लिए बहुत होगा। या आप चाहे तो इसे और भी 10 मिनट बढ़ा सकते है।

आपको जितना देर तक की पढ़ाई करनी है आप इसे धीरे धीरे बढ़ा सकते है। यह आप पर निर्भर करेगा की आप कितना देर और आपके पुरे पढ़ाई को पूरा करने के लिए समय लगेगा।


#2 पढ़ाई के लिए एक शांत और सही जगह का चुनाव करे।


पढ़ाई के लिए एक शांत और सही जगह का चुनाव करे।

अकसर पढ़ाई करते वक्त हमें कई कारण से परेशानी होती है , जिसमे हम एक सही और शांत जगह का चुनाव करना बहुत जरुरी हो जाता है। हमारे आसपास अगर शोर का माहौल हो। तो हम अपना ध्यान पढ़ाई की ओर बिलकुल नहीं लगा पाते। इसलिए आप एक सही जगह का चुनाव कर ले। और वहां पर किसी को शोर करने से मना कर दे।

अगर आप पढ़ाई कर रहे हो। तो आपके घर में आपको कोई परेशान नहीं करेगा , ये हमारे इंडियन पेरेंट्स की एक खासियत है। आपको पढ़ने के लिए वो कोई भी सुविधा उपलब्ध करते है। इसलिए आप अपने लिए एक सही जगह का चुनाव कर ले और वही पर अपनी पढ़ाई करे।

पढ़ाई के लिए एक शांत और सही जगह कैसे बनाये ?

1 बैठने के लिए और बुक और कॉपी रखने के लिए एक टेबल रखे।

2 अपने बुक्स को अपने कमरे में अच्छे से रखे। जिससे आपको बुक ढूंढने में दिक्कत न हो।

3. आप पढ़ाई के वक्त शुरुवात के 5 या 10 मिनट गाना सुन सकते है। इससे आपका दिमाग शांत हो जायेगा।


#3 अपनी सोच को सकरात्मक रखे।


अपनी सोच को सकरात्मक रखे।

सकरात्मक बाते सोचना हमारे दिमाग के लिए काफी सही होता है , यानि की हम जैसा सोचते है , वैसे ही हमारा दिमाग काम करता है , अकसर कई बच्चे अपने दिमाग में ये बैठा लेते है या समाज में कुछ ऐसे लोगो द्वारा उनके दिमाग में बैठा दिया जाता है , कि वो तेज नहीं है , और वो हमेसा यही सोचते है , की मै तो तेज हु नहीं तो मैं कैसे ये काम कर सकता हु।

जबकि तेज होने के लिए आपको कोई बहुत बड़ा काम नहीं करना पड़ता है , और सच बोलू तो तेज अकसर कोई होता ही नहीं , बस लोग अपने इस दिमाग का इस्तेमाल करना सिख जाते है , और कुछ लोग इसमें पीछे रह जाते है , इसलिए आप ये मत सोचो की आप तेज नहीं हो।

बस दिमाग में ये बैठा लो कि आपको बस पढ़ना है और उससे कुछ सीखना है , फिर आपकी दिमागी शक्ति ही बताने लगेगी की आप कितना तेज है। और हमेसा आप ये मत सोचो कि आपसे ये नहीं होगा।

ये नकरात्मक विचार अपने दिमाग से हटा दे। और ये सोचे कि आपको इसे करने के लिए क्या करना होगा।

सकरात्मक सोच रखने के फायदे।

1 सकरात्मक सोच या पॉजिटिव थिंकिंग रखने से आप हमेसा खुश रह पाएंगे। आपके पास कोई ऐसी वजह नहीं मिलेगी जिसे आप दुःख हो।

2 आप डिप्रेशन , तनाव , सर दर्द से आसानी से छुटकारा पाएंगे।

3 अगर आपको लगे की आपमें आत्मविश्वास की कमी है , तो आपको उस समय अपने बारे में सकरात्मक बात सोचे इससे आपका आत्म विश्वास में वृद्धि होगी।


#4 पढ़ाई के वक्त सारी जरुरत मंद चीजों को अपने पास रखे।


पढ़ाई के वक्त सारी जरुरत मंद चीजों को अपने पास रखे।

अगर आप जब पढ़ाई कर रहे हो , तब आपको उसके लिए अपनी सारी जरुरत में आने वाली चीजों को अपने पास रख लेना है , इससे आपको पढ़ाई में कोई भी चीज को बार बार ढूंढने के लिए उठना न पड़े .

अपनी पढ़ाई में काम आने वाली सभी चीजों को जैसे कॉपी , पेन , पेंसिल , आदि इन सभी चीजों को आपको अपने पास रख लेना चाहिए। इससे आपका ध्यान पूरी पढ़ाई में ही लगेगा |

आपको कोई परेशानी भी नहीं होगी , नहीं तो बार बार किसी चीज को अगर आप ढूंढते रह गए , तो आपका दिमाग डिस्ट्रक्ट होगा और आप पढ़ाई में ध्यान नहीं लगा पाएंगे।


#5 पढ़ाई करने के साथ अच्छा भोजन Healthy Food करे।


पढ़ाई करने के साथ अच्छा भोजन Healthy Food करे।

अगर आप पढ़ाई करने के मूड में हो और आपने अच्छे से भोजन नहीं किया है , तब आपको पढ़ाई करने में काफी प्रॉब्लम हो सकती है ,

आपको अपने पढ़ाई के साथ ही अपने भोजन पर भी अच्छा ध्यान रखना होगा। और आपको उसके लिए Healthy Food फल , हरी सब्जी , प्रोटीन युक्त भोजन करने की जरुरत होगी। इससे आप स्वास्थ्य रह पाएंगे , और अपना भोजन समय से कर पाएंगे। इससे आपका पढ़ाई में भी अच्छा ध्यान लग पाएगा .


#6 पढ़ाई करने के साथ समय पर सोये।


पढ़ाई करने के साथ समय पर सोये।

नींद हमारे शरीर के लिए काफी हद तक जरुरी होता है। इसलिए हमे पढ़ाई के साथ समय पर सोना चाहिए , ज्यादा देर तक जागकर पढ़ने के बाद हमारे आँखों को और दिमाग को रेस्ट की जरुरत होती है , इसलिए हमें नींद ले लेना चाहिए ,

इससे काफी आपको राहत मिलेगी और हमारा दिमाग फिर से चार्ज हो पायेगा। आपको कम से काम हर रोज 6-7 घण्टे का नींद लेना चाहिए। इससे आपका शरीर को थोड़ा आराम मिलता है।


#7 सुबह मे उठ कर पढ़ाई करे।


सुबह मे उठ कर पढ़ाई करे।

अगर आप पढ़ाई करना चाहते है , तो उसके लिए आपको एक शांत माहौल की जरुरत होती है , और वैसा शांत माहौल आपको सुबह के समय ही मिल सकता है , इस समय आपको पढ़ने के कई फायदे है , इस समय तो सबसे पहले आपको एक शांत माहौल मिलता है |

जिससे आपको पढ़ाई में और भी ध्यान लगा पाएंगे , इस समय काफी सुहावना होता है न ठंडा न ज्यादा गर्म हमारे शरीर के लिए इस समय काफी अनुकूल वातावरण होता है। और इस समय आप अपनी लर्निंग पर अच्छी पकड़ बना सकते है।


#8 खुद के नोट्स बनाकर पढ़ाई करे।


खुद के नोट्स बनाकर पढ़ाई करे।

अकसर कई स्टूडेंट अपना खुद का नोट्स नहीं बनाते , जिसके कारण उन्हें कुछ समझ नहीं आ पाता है , और वो अपना पढ़ाई में ध्यान नहीं दे पाते है , इसलिए आपको पढ़ाई करते वक्त खुद के नोट्स तैयार करने चाहिए |

अगर आप खुद के नोट्स बनाएंगे , तो वो शुरू में आपको समझ आये या न आये आपको कुछ दिन बाद वो रिवीजन के समय वो आपको धीरे धीरे समझ आने लगेगा। इसलिए आपको खुद का नोट्स बनाकर और खुद से ही पढ़ने की कोशीश करनी चाहिए।


#9 जो भी पढ़े उसे ध्यान से पढ़े और समझे।


जो भी पढ़े उसे ध्यान से पढ़े और समझे।

पढ़ाई हर कोई करता है कोई ज्यादा करता है , कोई कम। अकसर कई स्टूडेंट कम पढ़कर भी अच्छे मार्क्स ला देते है , और कई ज्यादा देरी तक पढ़ने के बाद भी नहीं , तो ऐसा क्यों होता है , ऐसा सिर्फ अच्छे से न समझकर पढने वाले छात्र के साथ हो सकता है |

आप चाहे कितना भी ज्यादा पढ़ाई क्यों न करो लेकिन जब तक आप उसे अच्छे से नहीं समझेंगे , तो आप उसे फिर अपने एग्जाम में कैसे लिख पाएंगे , इसलिए कुछ भी पढ़िए उसे अच्छे से समझिये , चाहे आप उसके लिए कितना भी समय दे रहे हो।


#10 डिस्ट्रैक्ट करने वाली चीजों से दूर रहे।


डिस्ट्रैक्ट करने वाली चीजों से दूर रहे।

आज के समय में हमें कई तरह के पढ़ाई से हटने के लिए कुछ डिस्ट्रैक्शन आस पास होते है , जो हमें पढ़ाई न करने पर मजबूर कर देते है , जैसे आपके घर का टेलेविज़न , मोबाइल फ़ोन , गेम्स , सोशल मीडिया |

ये सभी चीजे आज कल हमे पढ़ाई से डिस्ट्रैक्ट करती है , और इन्ही सभी डिस्ट्रैक्शन के कारण आप अच्छे से नहीं पढ़ पाते है। इसलिए आप लम्बे समय तक पढ़ाई के लिए आपको इन सभी डिस्ट्रक्शन वाली चीजों से दूर होना होगा।


निष्कर्ष


पढ़ाई करने के लिए आज के ये कुछ टिप्स आपको कैसे लगे , हमें अपना सुझाव और इससे संबंधित कोई सवाल हो तो निचे सवाल पूछने के विकल्प पर अपना सवाल पूछ सकते है। हम उम्मीद करते है कि आज का पोस्ट आपको पसंद आये। अगर आप इन सभी टिप्स को अच्छे से फॉलो करते है , तो आप अच्छे से पढ़ पाएंगे और पढ़ाई में आपका मन लगने लगेगा।

Hye Friends Knowledgewap ब्लॉग पर आपका स्वागत है, इस ब्लॉग पर हर दिन नई - नई जानकारियाँ लिखी जाती है। हम हर जानकारी को आपकी अपनी हिंदी में लिखते हैं। हमसे जुड़े रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है और कमेंट बॉक्स में अपनी राय जरूर दें ताकि हम और बेहतर कर सके, धन्यवाद।

Leave a Comment