0

लेनिन ने बल प्रयोग द्वारा केरेन्सकी सरकार को पलट देने का निश्चय किया I सेना और जनता दोनों के सहयोग से 7 नवंबर 1917 ई. को बोल्शेविकों ने पेट्रोग्राद के रेलवे स्टेशन, बैंक, डाकघर, टेलीफोन केंद्र, कचहरी, अन्य सरकारी भवनों पर अधिकार कर लियाI केरेन्सकी रूस छोड़कर भाग गयाI इस प्रकार रूस की महान बोल्शेविक क्रांति संपन्न हुई I इस बोल्शेविक क्रांति को ही अक्टूबर क्रांति कहते है I

Changed status to publish