0

मुहम्मद गौरी ने भारत पर 13 बार आक्रमण किया था

  1. मुल्तान पर आक्रमण –1175 ई . में मुहम्मद गौरी ने मुल्तान पर आक्रमण किया l मुल्तान पर उस समय करमार्थियन सम्प्रदाय के मुसलमान शासक का शासन चल रहा था मुल्तान का शासक मुहम्मद गौरी के आक्रमण का सामना नहीं कर सका ,जिसके बाद गौरी ने शीघ्र ही मुल्तान पर अधिकार कर लिया l
  2. उचछ पर आक्रमण –1176 ई. छल नीति से मुहम्मद गौरी ने इसे भी जीत लिया l
  3. गुजरात पर आक्रमण –गौरी ने 1178 ई. में द्वितीय आक्रमण गुजरात पर किया लेकिन मूलराज द्वितीय ने उसे आबू पर्वत की तलहटी में पराजित किया। भारत में मुहम्मद गौरी की यह पहली पराजय थी। इस युद्ध का संचालन नायिका देवी ने किया था जो मूलराज की पत्नी थी।
  4. पंजाब पर आक्रमण –इस युद्ध से सबक लेते हुए गौरी ने पहले संपूर्ण पंजाब पर अपना अधिकार कर भारत पर अधिकार करने के लिये प्रयास शुरु किये।1179-86 ई. के बीच पंजाब को जीत लिया था।
  5. भटिंडा पर आक्रमण –1189 ई. में गौरी ने सीमावर्ती भटिंडा के किले पर आक्रमण करके उसे विजित किया l
  6. तराइन का प्रथम युद्ध –1191 ई. में तराइन के प्रथम युद्ध में पृथ्वीराज तृतीय ने गौरी को पराजित किया लेकिन उसकी शक्ति को समाप्त नहीं कर सका।
  7. तराइन का द्वितीय युद्ध- 1192 ई. में पृथ्वीराज तृतीय को हराकर अजमेर तथा दिल्ली तक के क्षेत्रों को जीत लिया तथा इसी के साथ चौहान साम्राज्य का नाश हुआ। तराइन के द्वितीय युद्ध में पृथ्वीराज के सामंत तथा दिल्ली के तोमर शासक गोविंदराज की मृत्यु हुई।
  8. कन्नौज पर आक्रमण – 1194 ई. में गौरी ने ऐबक की सहायता से चंदावर (यू. पी. इटानगर) के युद्ध में कन्नौज के शासक जयचंद को पराजित कर कन्नौज पर अधिकार कर लिया।1194 ई. के बाद गौरी के दो सेनापति कुतुबुद्दीन ऐबक तथा बख्तियार खिलजी ने भारतीय क्षेत्रों को जीतना प्रारंभ किया।
  9. अजमेर ,हांसी व दिल्ली पर आक्रमण- मुहम्मद गौरी के भारत से चले जाने के बाद 1192 ई. से 1194ई के मध्य मुसलमानों के विरूद्ध विद्रोह हुए लेकिन कुतुबुद्दीन ऐबक ने उन्हें दबा दिया l
  10. बयाना एवं ग्वालियर पर आक्रमण –1195 -1196 ई. में मुहम्मद गौरी पुनः भारत आया l इस बार उसने बयाना को जीता और ग्वालियर पर आक्रमण किया l
  11. गुजरात पर आक्रमण- मुहम्मद गौरी के भारत से चले जाने के बाद राजस्थान में एक बार पुनः विद्रोह हुआ कुतुबुद्दीन ऐबक ने आक्रमण किया 1201 में भीम ने पुनः गुजरात पर अधिकार कर लिया l
  12. अन्य प्रदेशों पर कुतुबुद्दीन ऐबक के आक्रमण- मुहम्मद गौरी के परिनिधत्व कुतुबुद्दीन ऐबक ने भारत मे अन्य क्षेत्रों पर अपना अधिकार कर लिया l
  13. खोक्खरो से संघर्ष – 1205 में मुहम्मद गौरी पुनः भारत आया और युद्ध किया जिसमें खोक्खरो का बड़ी निर्दयता से क़त्ल किया गया l
Changed status to publish