प्रकाश का अपवर्तन किसे कहते हैं

प्रकाश  की  किरणें जब सघन  माध्यम से विरल माध्यम में जाती है तो वह  अविलंब से दूर हट जाती है  तथा जब वह विरल  माध्यम  से  सघन माध्यम में जाती है तो अभिलंब की ओर मुड़ जाती  है,  प्रकाश के इस प्रकार मुड़ने  की  प्रक्रिया  को प्रकाश का अपवर्तन कहते हैं। अतः प्रकाश की किरणों के एक पारदर्शी माध्यम से दूसरे पारदर्शी माध्यम में जाने पर दिशा परिवर्तन की क्रिया को प्रकाश का अपवर्तन कहते हैं।

आपतित किरण – दो माध्यमों को अलग करने वाली सतह पर पढ़ने वाली प्रकाश किरण को आपतित किरण कहते हैं ।


आपतन बिंदु – जिस बिंदु पर आपतित किरण दिए हुए माध्यमों को अलग करने वाली सतह से टकराती है उसे आपतन बिंदु कहते हैं।


अभिलंब – किसी सतह के किसी बिंदु पर खींचे गए लंब को उस बिंदु पर अभिलंब कहते हैं ।

अपवर्तित किरण – दूसरे माध्यम में मुड़कर जाती हुई प्रकाश किरण को अपवर्तित किरण कहते हैं।


आपतन कोण – आपतित किरण आपतन बिंदु पर खींचे गए अभिलंब से जो कोण बनाती है उसे आपतन कोण कहते हैं ।


अपवर्तन कोण – अपवर्तन किरण आपतन बिंदु पर खींचे गए अभिलंब से जो कोण बनाती है उसे अपवर्तन कोण कहते हैं।